best astrology services

2021 Holi Jyotish Mahattw

 2021 में होली उत्सव और ज्योतिष, जानिए होलिका दहन कब होगा, क्या करे जीवन को सुखी करने के लिए.

होली रंगों का त्यौहार है, सब कुछ भुला के सबसे सबके जीवन को रंगीन करने का त्यौहार है, इस उत्सव में सभी अपना दुःख भूलकर खुशियों से जिन्दगी को भरने का प्रयास करते हैं. ज्योतिष के हिसाब से होली की दहन की रात्रि साधना करने के लिए अती उत्तम समय होता है, इस रात्रि को तंत्र साधना की जाती है, मंत्र साधना की जाती है, यंत्र साधना भी की जाती है. विद्वान् लोग कुछ न कुछ विशेष अनुष्ठान करते हैं होली की रात्री को जीवन में से बाधाओं को हटाने के लिए और सफल जीवन जीने के लिए |

2021 Holi Jyotish Mahattw
2021 Holi Jyotish Mahattw

जीवन को सफल बनाने के लिए जितना सोचा जाए और जितना किया जाए, वो कम ही लगता है. सफलता का कोई छोर नही और सोच का भी कोई अंत नहीं होता है. इसी कारण लोग नए नए उपाय खोजते रहते हैं सफलता को आकर्षित करने के लिए |

होली के त्यौहार में भी अगर हम ज्योतिष का समावेश कर ले तो बहुत फायदा खेल के साथ उठा सकते हैं. हमारे पहले के लेख में हम पढ़ चुके है की होलिका दहन में क्या डाले, कैसे हम ग्रह दोषों से मुक्ति पा सकते हैं.

आइये जानते हैं की किस प्रकार की साधनाएं होती है होलिका दहन की रात्री को ?

  • ग्रह दोषों से मुक्ति के लिए भी ये रात्री ख़ास होती है.
  • इस रात्रि को मन्त्र जागृति के लिए शुभ माना जाता है.
  • इस रात्री को देवी देवताओं को प्रसन्न करने के लिए साधना की जा सकती है.
  • कुछ लोग वशीकरण साधना भी इस रात्री को करते हैं.
  • कुछ लोग आय के स्त्रोत को खोलने के लिए भी पूजा करते हैं.
  • इस रात्रि को काले जादू से सुरक्षा भी संभव है.

अतः होली की रात्री सभी के लिए ख़ास होती है. व्यापारी, गृहणी, प्रेमी, विद्यार्थी, नौकरी पेशा सभी इस रात्री को अपने जीवन को सफल बनाने के लिए पूजा पाठ कर सकते हैं.



Watch video here on Holi ka jyotish mahattw:

आइये जानते हैं होलिका दहन का महत्त्व :

होलिका दहन एक ऐसी क्रिया है जिसमे हम अपने अन्दर की बुराइयों को जलाते हैं. होलिका के पीछे एक कहानी है, वो ये की होलिका नाम की एक राक्षसी थी जिसने भगवान् विष्णु के भक्त प्रहलाद को जलाने की कोशिश की परन्तु आग से न जलने का वरदान प्राप्त होने पर भी होलिका जल गई परन्तु भक्त प्रहलाद को कुछ नहीं हुआ. उसी दिन से विद्वान् लोग इस दिन को बुराई का नाश करने के लिए मनाने लगे.


पढ़िये होलिका दहन में क्या करे ?

होलिका दहन पूर्णिमा को होता है जिसका अपना ही महत्त्व होता है. इस दिन हम स्वास्थ्य के लिए पूजा कर सकते हैं, इस दिन संबंधो को सुधारने के लिए भी पूजा की जा सकती है, काले जादू से छुटकारे के लिए भी पूजा कर सकते हैं, ग्रह दोषों से छुटकारे के लिए भी इस दिन पूजा होती है.


पढ़िए कुछ होली के टोटके परेशानियों को दूर करने के लिए 

आइये अब जानते हैं की 2021 ग्रह योग कैसे बन रहे हैं?

  1. इस साल होलिका दहन 28  मार्च, रविवार की रात्री को होगा. पूर्णिमा होने के कारण वैसे भी ये रात्री ख़ास है. आइये देखते हैं गोचर में ग्रह कैसे बैठेंगे इस रात्री को.
  2. राहू और केतु उच्च के रहेंगे जिससे तंत्र साधना के लिए उत्तम वातावरण रहेंगा |
  3. शनि स्व राशि में रहेंगे जिसके कारण साधको को ध्यान करने की शक्ति प्राप्त होगी |
  4. शुक्र भी उच्च के रहेंगे जिससे जो लोग भौतिक उन्नति के लिए प्रयोग करना चाहते हैं, वे भी सफलता पूर्वक कर सकते हैं |
  5. सूर्य भी मित्र के रहेंगे जो की सभी के लिए शुभ होगा |
  6. गुरु अपने नीच राशि में रहेंगे जो की कहीं ना कहीं बाधा उत्पन्न करेंगे |
  7. राहू और मंगल साथ में रहेंगे जिससे इस रात्री को दुर्घटनाओं के होने के योग भी काफी रहेंगे अतः सभी को संभल कर रहना होगा |

तो देखा जाए तो 2021 में होली की रात्री में ग्रहों का साथ बहुत अच्छा मिल रहा है साधना के लिए और सभी को इसका लाभ लेना चाहिए अपनी मनोकामनाओ को पूरा करने के लिए |

आइये जानते हैं किन परेशानियों को दूर करने के लिए आप पूजा कर सकते हैं ?

  • इस रात्री को जिनके विवाह में परेशानी आ रही है वे पूजा कर सकते हैं.
  • जिनको नौकरी या व्यापार में परेशानी आ रही है, वे प्रयोग कर सकते हैं. 
  • जिनको प्रेम जीवन में परेशानी आ रही है वे भी प्रयोग कर सकते हैं.
  • हम धन, मान सम्मान आदि प्राप्ति के लिए भी पूजा कर सकते हैं.
  • अगर कोई काला जादू से परेशां है तो वे भी इस दिन सुरक्षा के लिए प्रयोग कर सकते हैं.
  • ग्रह दोषों को दूर करने के लिए भी उपाय कर सकते हैं |

अतः देखा जाए तो होली की रात्रि शुभ है परन्तु थोडा सावधानी बरत के हम इस रात्रि का पूरा लाभ ले सकते हैं और जीवन को सुखी कर सकते हैं.

इस रात्रि को यात्रा टालना चाहिए, कोई नया कार्य शुरू न करे, कोई निर्णय न ले, किसी भी प्रकार के लड़ाई झगडे से दूर रहे, नशे और मांसाहार से दूर रहें |


अगर कुंडली में अंगारक योग हो, ग्रहण योग हो, चंडाल योग हो, तो आपको ज्यादा सावधान रहना चाहिए और रात्रि को पूजा पाठ, जप, हवन जरुर करना चाहिए.

Read in English about Astrology importance of Holi festival 2021


2021 में होली उत्सव और ज्योतिष, जानिए होलिका दहन कब होगा, क्या करे जीवन को सुखी करने के लिए.

No comments:

Post a Comment

Sun transit in virgo on 17 september 2021 read prediction

Surya badlelenge rashi 17 सितम्बर 2021 , शुक्रवार को, kanya sankranti ka prabhav kya hoga 12 rashiyo pe, sun Transit in september 2021, ...