best astrology services

Mansik Rogo Ka Jyotish Karan

मानसिक रोगों से जुड़े कुछ सच, मानसिक रोगों से सम्बंधित कुछ बातें, Myths Related To Mental Problems, मानसिक रोगों के ज्योतिषीय कारण | 

Mansik Rogo Ka Jyotish Karan
Mansik Rogo Ka Jyotish Karan

आइये जानते हैं हिंदी में मानसिक रोगों के बारे में :

मानसिक रोग आज के दौर में बढ़ता जा रहा है, लोग किसी न किसी प्रकार के मानसिक रोगों से कभी न कभी ग्रस्त हो ही जाते हैं, इसका कारण है आज का माहोल जिसमे की अत्यधिक प्रतिस्पर्धा हो गई है, गंभीर रोगों का भय सताने लगा है, लोगो का एक दूसरे से मिलना जुलना बंद हो गया है, लोग ज्यादातर समय कंप्यूटर या मोबाइल के साथ गुजारने लगे है | 

लोग आज कुछ पाने के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हो जाते हैं. कुछ को घर में परेशानी है , कुछ को ऑफिस में परेशानी है, कुछ को घर और ऑफिस दोनों जगह परेशानी है. तनाव लोगो के जीवन का एक हिस्सा बन गया है |

साधारणतः लोग मानसिक रोगियों से दूरी बनाए रखना चाहते हैं जो की सही नहीं है. इन लोगो को बहुत ख्याल रखने की जरुरत है. इनको समझ के इनकी मदद करना चाहिए जिससे की इनमे सही सोच उत्पन्न हो सके और ये एक साधारण जीवन जी सके.


आइये जानते है मानसिक रोगों से जुड़े कुछ भ्रम का जवाब :

Watch video here:

क्या हर मानसिक रोगी खतरनाक होता है?

ये बिलकुल भी सही नहीं है, कुछ लोग शुरूआती स्तर पर होते हैं, कुछ लोग अवसाद से ग्रस्त होते हैं, कुछ लोग ग़लतफ़हमी के कारण परेशान रहते हैं आदि. ऐसे रोगी किसी के लिए हानिकारक नहीं होते हैं. सिर्फ वो रोगी ही खतरनाक होते हैं जो की बिमारी के चरम तक पहुँच चुके है , क्यूंकि वो कभी भी कुछ भी कर सकते हैं. 

क्या मानसिक रोगी को जीवन भर दवाई लेना होता है?

ये भी सच नहीं है, दवाई इस बात पर निर्भर करता है की बिमारी कैसी है और कौनसी अवस्था की है, कुछ लोग कुछ महीनो में ठीक हो जाते हैं कुछ लोगो का इलाज लंबा चलता है. अगर सही सलाह लिया जाए और काउंसलिंग करवाई जाए तो कुछ समय में बिमारी से बाहर आया जा सकता है |

हर मानसिक रोगी का इलाज बिजली के झटके से किया जाता है ?

ये भी पूरी तरह से ठीक नहीं है. बिजली के झटके से इलाज उन्ही का किया जाता है जो की बहुत गंभीर हो जाते हैं और उग्र भी. और ये इलाज एक्सपर्ट्स के निगरानी में किया जाता है, कुछ लोग सिर्फ इसीलिए चिकित्सक के पास नहीं जाते हैं की उन्हें लगता है की उन्हें बिजली के झटके दिए जायेंगे |

क्या मानसिक रोगियों के बच्चे भी मानसिक रोगी होते हैं?

ये भी जरुरी नहीं है, थोडा बहुत असर कभी कभार दिख सकता है परन्तु अगर सही माहोल में रखा जाए तो व्यक्ति पूरा जीवन अच्छी तरह से जी सकता है.


आइये अब जानते हैं कुछ ख़ास बाते मानसिक रोग से सम्बंधित:

हर मानसिक रोगी की याददाश्त प्रभावित नहीं होती है, परन्तु इनकी सोच बदलती रह सकती है जिसके कारण ये ये अजीबोगरीब व्यवहार करने लगते हैं. 

किसी भी प्रकार के ड्रग्स, अल्कोहल आदि का प्रयोग करके मानसिक रोगों का इलाज संभव नहीं है अतः ऐसी कोशिश नहीं करना चाहिए |

मानसिक रोग संक्रामक नहीं होता है अतः साथ रहने से नहीं फैलता है, अतः घबराना नहीं चाहिए. 

हर मानसिक रोगी आत्म-ह्त्या का प्रयास नहीं करता है, अतः हर रोगी के लिए ऐसी सोच रखना गलत होगा.

ज्योतिष के द्वारा भी मानसिक रोगों के समस्या को सुलझाने में मदद मिलती है अतः चिकित्सा के साथ साथ मरीज की कुंडली अच्छे ज्योतिष को दिखा के ज्योतिषी उपाय भी करना चाहिए. 

कुछ मानसिक रोगों को दवाइयों, ज्योतिष, योग, आदि के द्वारा बिलकुल ठीक किया जा सकता है अतः डॉक्टर से सलाह लेके इनका इलाज करे और अच्छा और सफल जीवन जियें.


आइये अब जानते हैं मानसिक रोगों के ज्योतिषीय कारण :

ज्योतिष से अगर मानसिक रोगों के कारन को जानना है तो कुंडली का अध्ययन बहुत ध्यान से करना होता है क्यूंकि इसके कई कारण हो सकते हैं |

  • अगर कुंडली में लग्न बहुत कमजोर हो और वहां पे ग्रहण योग बन रहा हो या फिर चन्द्रमा नीच का हो जाए तो ऐसे में जातक मानसिक रोगों से ग्रस्त हो सकता है |
  • अगर प्रथम भाव में राहू और मंगल साथ में बैठ जाए तो ऐसे में भी जातक मानसिक रोगों से ग्रस्त हो सकता है |
  • कुंडली के प्रथम भाव, सुख भाव, अष्टम भाव में अगर अंगारक योग बने या फिर ग्रहण योग बने तो भी जातक को मानसिक रोगों से पीड़ित कर सकता है |

जातक किस कारण से मानसिक रोग से पीड़ित होगा, ये इस बात पे निर्भर करेगा की उसके दिमाग से सम्बंधित भाव किस ग्रह से प्रभावित हो रहा है और उसका सम्बन्ध दूसरे किस भाव से बन रहा है | जैसे की कुछ लोग प्रेम में धोखा खाने से मानसिक रोगी बन जाते हैं, कुछ लोग नौकरी नहीं मिलने से मानसिक रोगी बन जाते हैं, कुछ लोग विवाह के बाद सही साथी नहीं मिलने के कारण मानसिक रोगी बन जाते हैं, कुछ लोग किसी के द्वारा काला जादू करने के कारण मानसिक संतुलन खो बैठते हैं, कुछ लोग भ्रम में फंसने के कारण भी मानसिक समस्या से ग्रस्त हो जाते हैं |

अतः कोई एक कारण नहीं होता है, कुंडली का बारीकी से अध्ययन करके ही ये पता लगाया जाता है की कोई व्यक्ति किस ग्रह के कारण मानसिक रोगी बना है और फिर उससे सम्बंधित उपाय किये जाते हैं |

अतः ज्योतिष से संपर्क करके रोगी के कुंडली को दिखाके समाधान लेना चाहिए.

अगर आप भी किसी मानसिक रोग से गुजर रहे हैं तो बिना झिजके चिकित्सक से मिले और साथ ही ज्योतिष समाधान के लिए ज्योतिष से संपर्क करे और जानिए कौन सी पूजा आपके लिए शुभ रहेगी, कौन सा रत्न जगायेगा भाग्य, कब मिलेगी सफलता आदि |

मानसिक रोगों से जुड़े कुछ सच, मानसिक रोगों से सम्बंधित कुछ बातें, Myths Related To Mental Problems, मानसिक रोगों के ज्योतिषीय कारण | 

No comments:

Post a Comment

Sun transit in virgo on 17 september 2021 read prediction

Surya badlelenge rashi 17 सितम्बर 2021 , शुक्रवार को, kanya sankranti ka prabhav kya hoga 12 rashiyo pe, sun Transit in september 2021, ...