best astrology services

Vrishabh Sankranti 2021 Ka Prabhav 12 Rashi par Kaise rahega

ज्योतिष के अनुसार वृषभ संक्रांति का महत्व, ज्योतिषी द्वारा वृषभ संक्रांति की भविष्यवाणी, सूर्य के वृष राशि में प्रवेश करने पर क्या असर होगा १२ रशि वालो पर |

जब भी सूर्य अपनी राशि बदलते हैं तो उसे संक्रांति कहते हैं, हर संक्रांति हिंदू ज्योतिष परंपरा के अनुसार पुण्य संचय करने के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह दिन दान और प्रार्थना करने के लिए एक पवित्र दिन के रूप में माना जाता है।

Vrishabh Sankranti 2021 Ka Prabhav 12 Rashi par Kaise rahega
Vrishabh Sankranti 2021 Ka Prabhav 12 Rashi par Kaise rahega 

वृष संक्रांति क्या है?

जब सूर्य ग्रह  वृषभ राशि में प्रवेश करते हैं तो इस अवधि को वृष संक्रांति कहते हैं। ज्योतिष के अनुसार कुल 12 संक्रांति होते हैं हैं और ये सभी दान - पुण्य, जरूरतमंदों की मदद करने, प्रार्थना करने, आध्यात्मिक अभ्यास आदि करने के लिए बहुत अच्छे हैं। ऐसा माना जाता है कि संक्रांति पर दान या पूजा पाठ बहुत ज्यादा फल देते हैं ।

हिंदी पंचांग के अनुसार वृषभ संक्रांति वैशाख महीने में आती है |

वृषभ का अर्थ है बैल और इसलिए यह माना जाता है कि इस दिन भगवान शिव की पूजा करना अच्छा होता है और कुछ लोग पुण्य प्राप्त करने के लिए इस दिन गाय दान करने का सुझाव भी देते हैं।

watch video in hindi here:

आइये जानते हैं की सफलता के लिए वृषभ संक्रांति पर क्या कर सकते हैं ?

  • इस दिन सौभाग्य को आकर्षित करने के लिए गाय और बछड़े की मूर्ति खरीदना और दुकान या घर पर स्थापित करना अच्छा होता है।
  • इस दिन शिव पूजा करने के बाद गौदान करना अच्छा होता है।
  • पितृ दोष को कम करने के लिए वृष संक्रांति पर पितृ तर्पण करना अच्छा होता है।
  • गंगा, यमुना, नर्मदा आदि पवित्र नदियों में पवित्र स्नान करने के लिए संक्रांति का समय बहुत अच्छा है।
  • इस शुभ दिन पर धन, वस्त्र, भोजन जरुरतमंदों को देना पुण्य बढ़ाता है।
  • संक्रांति के दिन उपवास भी अच्छा है, धार्मिक कार्यों में समय व्यतीत करें और आध्यात्मिक साधनाएं, व्रत करके पूरा लाभ उठाएं।
  • आप किसी ऐसे व्यक्ति को गाय और बछड़े की मूर्ति भी उपहार में दे सकते हैं जिनका भाग्योदय आप करना चाहते हैं |
  • इस दिन श्रद्धालु पुरी के जगन्नाथ मंदिर में विशेष पूजा अर्चना करते हैं।
  • सभी की भलाई के लिए शिव और वासुदेव की पूजा कर सकते हैं ।
  • वृषभ संक्रांति भी मौसम परिवर्तन का प्रतिनिधित्व करती है अतः अपने स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए ।

आइये जानते हैं 2021 वृष संक्रांति पर 12 राशी वालो पर क्या असर होगा ?

वर्ष 2021 में, सूर्य 14 वें, शुक्रवार को लगभग 11: 15 रात में सूर्य, वृषभ राशि में प्रवेश करेंगे जिसका असर सब तरफ देखने को मिलेगा |

अशुभ सूर्य के कारण असामान्य तापमान परिवर्तन और मौसम परिवर्तन के कारण लोगों को स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस अवधि में राजनीति में कई बदलाव देखने को मिलेंगे क्योंकि सूर्य का संबंध प्रशासन और नेतृत्व से भी है।

आइये जानते हैं राशिफल :

  1. मेष राशी : मेष राशी वालो को अपने वाणी पर विशेष ध्यान रखना होगा, ससुराल पक्ष से वाद विवाह हो सकता है, अन्वाश्यक खर्चे आपको परेशां कर सकते हैं | स्वस्थ सम्बन्धी परेशानी भी हो सकती है |
  2. वृषभ राशि : अनावश्यक यात्राओं के योग बनेंगे जिसमे की खर्चा भी अधिक हो सकता है, मन विचलित रह सकता है, पिताजी के स्वास्थ्य को लेके परेशानी हो सकती है | उच्च अधिकारियो से मन मुटाव बढ़ सकता है साथ ही जिम्मेदारियां भी बढ़ सकती है |
  3. मिथुन राशी : आपके यात्राओं के योग बढ़ सकते हैं और स्वास्थ्य में अधिक खर्चा हो सकता है अतः सावधानी रखना होगा | परवार के लोगो के साथ भी वाद विवाद की स्थिति बन सकती है | 
  4. कर्क राशि : आपको अब अपने काम को बढाने के लिए पहले से ज्यादा मेहनत करना होगी, अपने आप को पूरा सचेत रखे अन्यथा आप भ्रमित हो के परेशां हो सकते हैं और गलत निर्णय ले सकते हैं |
  5. सिंह राशि : सिंह राशि वालो को अपनी मेहनत का पूरा फल प्राप्त नहीं होगा जिसके कारण अवसाद घेर सकता है, गुस्सा बढ़ सकता है | गलत फहमियो के कारण आपके मान-सम्मान में कमी आ सकती है |
  6. कन्या राशी : आप धार्मिक और सेवा कार्यो को लेके व्यस्त रह सकते हैं, पिता के स्वास्थ्य को लेके चिंतित रह सकते हैं | अपने काम काज में आपको पहले से ज्यादा मेहनत की आवश्यकता है |
  7. तुला राशि : आपके स्वास्थ्य में अचानक से बदलाव आपको महसूस होंगे और आप चिंतित रह सकते हैं, इस समय आपको साफ़ सफाई का ध्यान रखना चाहिए, अच्छा खाना खाएं, व्यायाम करे और भर कम से कम निकले |
  8. वृश्चिक राशि : आपके अपने जीवन साथी से मन मुटाव बढ़ सकते हैं, जीवन साथी के स्वास्थ्य को लेके चिंता हो सकती है, किसी पे अंधा विश्वास ना करे अन्यथा धोखा मिल सकता है |
  9. धनु राशि : अन्वाश्यक इच्छाएं आपको परेशां कर सकती है , आप अपने ही विचारों में उलझे रह सकते हैं | शत्रु आपको परेशां कर सकते हैं, किसी को भी कर्जा ना दे अन्यथा वापस मिलने में परेशानी होगी |
  10. मकर राशि : आप अपनी विद्या का प्रयोग पूरी तरह नहीं कर पायेंगे, प्रेम संबंधो में खटास आ सकती है, अगर आप सट्टा बाजार से जुड़ा काम करते हैं तो नुक्सान हो सकता है अतः पूरा ध्यान रखे और जल्दी बाजी में कोई निर्णय ना ले |
  11. कुम्भ राशि : परिवार में मतभेद हो सकता है , यात्राओं पर जाना पड़  सकता है, माता के स्वास्थ्य को लेके चिंता बढ़ सकती है | जीवन साथी के साथ तनाव बढ़ सकता है |
  12. मीन राशि : आप अपने अन्दर कमजोरी महसूस कर सकते हैं, भाई बहनों के साथ सम्बन्ध ख़राब हो सकते हैं , अन्वाश्यक इच्छाएं आपको परेशां कर सकती है | 

जब 14 तारीख को वृषभ राशि में सूर्य का गोचर होगा तो क्या परिवर्तन देखने को मिल सकते हैं ?

चूंकि लॉक-डाउन चल रहा है और पूरी दुनिया महामारी से गुजर रही है, इसलिए लोग बहुत कठिन समय से गुजर रहे हैं। हर जगह बीमारी, मृत्यु, भूख, संघर्ष आदि का भय है। वास्तविकता यह है कि पर्यावरण पूरी तरह से नकारात्मक है और जब 14 मई, शुक्रवार को सूर्य वृषभ में प्रवेश करेंगे तो बहुत बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं |

  • कई शहरों में लॉक डाउन बढ़ सकता है।
  • देश में राजनीतिक मुद्दे बढ़ सकते हैं ।
  • जिन लोगों की कुंडली में सूर्य शत्रु के है या दुर्बल है, वे निराशा, भय, मानहानि से गुजर सकते हैं।
  • अवांछित मौसम की स्थिति भी कई लोगों के लिए समस्या बन सकती है।
  • वे लोग जो नशीली दवाओं के सेवन के आदी हैं, शराब के आदि है, स्वास्थ्य समस्याओं से गुजर सकते हैं |
  • लोगों के मन में असंतोष बढ़ सकता है।

आइये जानते हैं ज्योतिष अन्सुअर कुछ विशेष सावधानियां जो रखनी चाहिए :

  1. यदि आपकी कुंडली में सूर्य अशुभ है तो अगले 1 महीने में यात्रा करने से बचें अन्यथा आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
  2. सूर्योदय के समय सूर्य को अर्घ्य अर्पित करें अर्थात अगले 1 महीने तक प्रतिदिन सूर्य को जल अर्पित करें।
  3. यदि आप सक्षम हैं तो सभी की भलाई के लिए सूर्य शांति पूजा करें या करवाएं ।
  4. बुजुर्गो का सम्मान करें और उनका आशीर्वाद ले ।
  5. आपने आपको किसी भी कानूनी समस्या में ना फंसने दे |
  6. शांति रहिये, जप, ताप करते रहिये और शांति पूर्ण जीवन जीने के लिए प्रयास करें |
  7. अगले 1 महीने में अनचाहे बदलावों के लिए अपने आपको तैयार रखे |

जानिए आपकी कुंडली के अनुसार आपका भविष्य कैसा रहेगा, कौन सी पूजा आपके लिए अच्छी है, कौन सा रत्न शुभ है, कब होगा विवाह, प्रेम जीवन कैसा रहेगा आदि |



ज्योतिष के अनुसार वृषभ संक्रांति का महत्व, what happens when Sun enter in Taurus zodiac., ज्योतिषी द्वारा वृषभ संक्रांति की भविष्यवाणी, सूर्य के वृष राशि में प्रवेश करने पर क्या असर होगा १२ रशि वालो पर |

No comments:

Post a Comment

Jyotish ke 9 khatarnaak yog jo barbaad kar sakte hain

Jyotish ke 9 khatarnaak yog jo barbaad kar sakte hain, 9 नुकसानदायक योग जो जीवन में संघर्ष पैदा करते हैं, जानिए कैसे बनते हैं ये योग कु...