Skip to main content

Posts

Showing posts from June, 2021

Astrology website

Vedic astrology services || Horoscope Reading || Kundli Analysis || Birth Chart Calculation || Pitru Dosha Remedies || Love Life Reading || Solution of Health Issues in jyotish || Career Reading || Kalsarp Dosha Analysis and remedies || Grahan Dosha solutions || black magic analysis and solutions || Best Gems Stone Suggestions || Rashifal || Predictions || Best astrologer || vedic jyotish || Online jyotish || Phone astrology ||

Benefits of shukra gayatri mantra

Benefits of Shukra gayatri mantra,  Lyrics of Shukra gayatri mantra, how to chant this mantra? According to Hindu astrology, Venus is related to life partner, happiness, intimate-science, romance, beauty, sensuality, passion, comfort, poetry, flowers, youth, work, lust, jewelry, wealth, art, music, dance, spring, rain, silver, luxury etc. Venus is related to all beautiful and alluring things. Venus has its effects on the genitals, reproductive system, eyes, throat, chin, cheeks and kidneys. According to Vedic astrology, the planet Venus is the master of Taurus and Libra sign. The exalted sign of Venus is Pisces and the debilitated sign is Virgo. Shukra is the son of the great sages Bhrigu and Khyati. The planet Venus is considered to be the guru of demons. Benefits of shukra gayatri mantra Shukra Gayatri Mantra bestows charm and artistic ability. By doing regular practice of Shukra Mantra, tremendous attraction power develops in the personality and the person is able to live life h

shukra badlenge rashi 17 July 2021 ko

 शुक्र का राशी परिवर्तन का १२ राशी वालो पर क्या असर होगा?, कब करेंगे शुक्र राशी परिवर्तन जुलाई 2021 में ?| वैदिक ज्योतिष के हिसाब से शुक्र ग्रह का सम्बन्ध प्रेम से है, सुख से है, भौतिक सुख सुविधा से है इसीलिए शुक्र जब किसी को लाभ देते हैं तो उसके वारे न्यारे हो जाते हैं | शुक्र के आशीर्वाद से जातक को अच्छा प्रेमी मिलता है, अच्छा जीवन साथी मिलता है, सुख सुविधा के साधन मिलते हैं | shukra badlenge rashi 17 July 2021 ko आइये जानते हैं शुक्र कब अपनी राशि परिवर्तन करेंगे ? 17 जुलाई 2021 शनिवार को शुक्र अपने शत्रु राशी कर्क से निकल के सिंह राशी में प्रवेश करेंगे जो की फिर से शुक्र की शत्रु राशि है | इसका असर भी सभी राशी वालो पर पड़ेगा | आइये जानते हैं की 12 राशी वालो पर शुक्र के राशी परिवर्तन का क्या असर होगा : watch video here: मेष राशिफल : मेष राशी वाले प्रेमियों के ऊपर शुक्र के राशी परिवतन का काफी ख़राब असर देखने को मिल सकता है | अपने प्रेमी के साथ आपके सम्बन्ध ख़राब हो सकते हैं, कोई तीसरा व्यक्ति आपके बीच में आ सकता है | विद्यार्थियों को मन एकाग्र करने में परेशानी आ सकती है, गु

16 july 2021 Ko Surya Badlenge Rashi

16 जुलाई2021 को सूर्य बदलेंगे राशी और कर्क में प्रवेश करेंगे, जानिए राशिफल, ज्योतिष उपाय | जैसा की पहले वाले लेख में हम देख चुके है की जुलाई 2021 में 4 ग्रह अपनी राशी बदलने वाले है और बुध के राशी परिवर्तन का असर हम जान चुके है पहले वाले लेख में, इस लेख में हम जानेंगे की 16 जुलाई को जो सूर्य कर्क राशी में प्रवेश करेंगे, उसका फल क्या होगा | 16 july 2021 Ko Surya Badlenge Rashi आइये जानते हैं की कब और कितने बजे सूर्य बदलेंगे राशि : सूर्य ग्रह 16 जुलाई, शुक्रवार के शाम को लगभग 4:45 मिनट पे मिथुन राशी से निकल के कर्क राशि में प्रवेश करेंगे और अगले १ महीने तक उसी में रहेंगे | कर्क राशी सूर्य की सम राशि है |  आइये जानते हैं 12 राशियों पर क्या असर होगा सूर्य के कर्क राशी में गोचर का : मेष राशीफल : मेष राशी वालो की व्यस्तता को बढ़ा देगा सूर्य का कर्क राशी में गोचर | काम काज बढेगा, जिम्मेदारियां बढेंगी और साथ ही कुछ नए काम के सिलसिले में यात्राओं पर जाना पड़ सकता है | विद्यार्थियों और प्रेमियों के लिए भी समय अच्छा रहेगा | वृषभ राशिफल :  अगर आप वृषभ राशी के है तो सूर्य के कर्क

July 2021 Mai 3 Grah Badlenge Rashi

 July 2021 मे कौन से ग्रह बदलेंगे अपनी राशि, 4 planets will change zodiac in july 2021- know predictions, जुलाई राशिफल, कारोबार, विवाह, प्रेम जीवन, बीमारी, मौसम भाविस्यवानी ज्योतिष अनुसार.  जुलाई 2021 में 4 ग्रह अपनी राशि बदलेंगे जिसका असर हमे सब तरफ देखने को मिलेगा| इस लेख में हम जानने वाले है ग्रहों के बदलाव का असर| | July 2021 Mai 3 Grah Badlenge Rashi ज्योतिष के हिसाब से जुलाई २०२१ काफी महत्त्वपूर्ण होने वाला है क्यूंकि 4 ग्रह अपनी राशि बदलने वाले है जो की लोगो के जीवन में काफी बड़े  बदलाव ला सकते हैं | आइये जानते हैं कौन से है वो ग्रह जो बदलेंगे राशि july 2021 में : पहला ग्रह है बुध जो की 7 जुलाई बुधवार को अपनी राशि बदलेगा और वृषभ से मिथुन राशी में प्रवेश करेंगे | दूसरा ग्रह है सूर्य जो की 16 जुलाई शुक्रवार को मिथुन राशि से निकलकर कर्क राशि में प्रवेश कर जायेंगे | तीसरा ग्रह है शुक्र जो की 17 जुलाई 2021, शनिवार को कर्क से निकलकर सिंह राशि में प्रवेश करेंगे | चौथा ग्रह है मंगल जो की 20 जुलाई को बदलेंगे अपनी राशी और कर्क से निकल कर सिंह में प्रवेश करेंगे | आइये जानते हैं क

School Office Mai Urja Kaise Bahdaye vastu jyotish anusar

वास्तु के अनुसार स्कूल ऑफिस में ऊर्जा कैसे बढ़ाएं, स्कूल के ऑफिस में ऊर्जा को कैसे बनाए रखें ज्योतिष और वास्तु अनुसार, How to enhance energy in school office as per vastu, स्कूल ऑफिस के लिए इंटीरियर टिप्स । स्कूल एक ऐसी जगह है जहाँ हम सीखते हैं, अध्ययन करते हैं, प्रयोग करते हैं, ज्ञान इकट्ठा करते हैं जो व्यक्तित्व विकास के लिए आवश्यक है। छात्रों का भविष्य स्कूल के वातावरण पर निर्भर करता है और इसलिए स्कूल की ऊर्जा को बनाए रखना बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है। School Office Mai Urja Kaise Bahdaye vastu jyotish anusar स्कूल चलाना केवल एक व्यवसाय नहीं है बल्कि यह प्रतिभा पैदा करने का स्थान है जो की समाज, शहर, देश के विकास में भाग लेते है, इसलिए जो स्कूल चला रहे हैं उन पर बड़ी जिम्मेदारी होती है। यहां इस लेख में मैं स्कूल कार्यालय की ऊर्जा बढ़ाने के लिए सुझाव देने जा रहा हूं जहां परामर्श किया जाता है, जहां माता-पिता और छात्र को पहली छाप मिलती है। हम जानेंगे कि कैसे हम स्कूल ऑफिस की एनर्जी को बढ़ा सकते हैं और उसे मेंटेन कर सकते हैं। आइए समझते हैं स्कूल ऑफिस के महत्व को : स्कूल का कार्य

Ganga Dushera Ka Mahattw

Ganga Duhera Ka Mahatwa In Hindi, जानिए गंगा दशहेरा के विषय में, क्यों मनाते हैं गंगा दशमी,  2021 के गंगा दशेरा का महत्तव . भारत में एक विशेष त्यौहार हर साल बड़े जोश से मनाया जाता है माँ गंगा की याद में. हिन्दू पौराणिक कथाओं के अनुसार गंगा एक पवित्र नदी है जो की पापों से लोगो को मुक्त करती है. इसे पापनाशिनी कहा गया है शास्त्रों में. Ganga Dushera Ka Mahattw हिन्दुओं का ये अटूट विश्वास है की इस पवित्र दिन में अगर कोई गंगा में स्नान और दुबकी लगता है साथ ही पूजा करता है तो वो समस्त पापों से मुक्त हो जाता है और मुक्ति प्राप्त करता है. आइये जानते हैं की कब मनाया जाता है गंगा दशेरा हिन्दू पंचांग अनुसार : गंगा दशहरा को गंगा दशमी के नाम से भी जानते हैं और ये ज्येष्ठ मास में शुक्ल पक्ष के दशमी तिथि को मनाया जाता है. इस दिन गंगा का अवतरण धरती पर हुआ था भागीरथ जी के अथक प्रयास के कारण, इसी कारण गंगा को भागीरथी भी कहा जाता है. जहां जहां गंगा नदी बहती है वहां लोग गंगा घाट पर इकटठा होते हैं और पवित्र स्नान के बाद पूजा पाठ करते हैं, सिर्फ यही नहीं जहा अन्य नदियाँ है वहां भी लोग माँ गंगा का स्मरण

Vivah Ke Liye shaktishali Yantra aur Mantra

विवाह समस्या समाधान के लिए शक्तिशाली मंत्र और यंत्र, Powerful spell and yantra for marriage problem solutions, विवाह की समस्या में देरी को दूर करने के लिए क्या करें, जानिए विवाह विश्लेषण के लिए सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषी और वैदिक ज्योतिष के माध्यम से उपाय। शादी जीवन का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है और समय पर शादी होना निजी जीवन का आनंद लेने के लिए सबसे महत्वपूर्ण पहलु है। कुंडली में विभिन्न प्रकार के दोषों के कारण कई लड़के-लड़कियों को विवाह करने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। Vivah Ke Liye shaktishali Yantra aur Mantra इस लेख में मैं उन लोगों के लिए एक बहुत ही सरल लेकिन शक्तिशाली मंत्र और यंत्र बताने जा रहा हूं जो विवाह की समस्या में देरी का सामना कर रहे हैं। विवाह में देरी के कारण जो भी हों, यह मंत्र और यंत्र आपकी मदद करेंगे। यह उन लड़कों और लड़कियों के लिए बहुत फायदेमंद है जिनके पास सही जन्म विवरण नहीं है, जन्म कुंडली नहीं है और शादी में देरी के सटीक कारणों को जानने में असमर्थ हैं ज्योतिष अनुसार । यह ध्यान में रखना चाहिए कि विश्वास जादू कर सकता है इसलिए इस मंत्र और यंत्र का उपयोग पूरी

Surya Mithun Rashi Mai 15 June 2021 Se

सूर्य का मिथुन राशी में गोचर का राशिफल, sun transit in Gemini predictions/rashifal, मिथुन संक्रांति से क्या होगा. Surya Mithun Rashi Mai 15 June 2021 Se ग्रहों के राजा सूर्य मिथुन राशी में प्रवेश करेंगे 15 जून 2021 को| पिछले एक महीने से सूर्य अपने शत्रु राशि वृषभ में है जिसके कारण कई जातको को बहुत परेशानी हुई है परन्तु अब जब ये अपने शत्रु राशि से निकल के मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे तो बहुत से लोगो को काफी रहत मिलेगी | आइये जानते हैं कब और कितने बजे सूर्य का गोचर होगा मिथुन राशी में : 15 जून 2021, दिन मंगलवार को करीब सुबह 5:50 बजे सूर्य वृषभ से निकलकर मिथुन राशी में प्रवेश करेंगे  और 16 जुलाई की शाम तक रहेंगे |  कुछ राशी वालो के लिए ये गोचर बहुत शुभ रहेगा वहीँ कुछ के लिए संघर्ष भी पैदा करेगा | आइये जनते हैं 12 राशी वालो पर सूर्य के मिथुन राशि में आने का फल : Watch video here: मेष राशी : मेष राशि से तीसरे भाव में सूर्य का गोचर होगा जिससे यात्रा के योग बनेंगे, पराक्रम बढेगा, भाई बहनों के सहयोग से रुके कार्य पूरे होंगे | मेष राशी वालो के प्रेम जीवन में अगर कोई परेशानी चल रही हो तो

Jyotish ke 9 khatarnaak yog jo barbaad kar sakte hain

Jyotish ke 9 khatarnaak yog jo barbaad kar sakte hain, 9 नुकसानदायक योग जो जीवन में संघर्ष पैदा करते हैं, जानिए कैसे बनते हैं ये योग कुंडली में | चंडाल योग, सूर्य ग्रहण योग, चन्द्र ग्रहण योग, पितृ दोष, नाग दोष, अंगारक योग, पिशाच योग, केमद्रुम योग, विष योग| 9 hanikarak yog jyotish mai वैदिक ज्योतिष में जब कुंडली का अध्ययन होता है तो शुभ और अशुभ योगो को भी देखा जाता है | जहाँ शुभ योग जातक को बेतरीन जीवन देता है वहीँ अशुभ योगो के कारण जातक को खूब परेशानी का सामना करना पड़ता है, प्रेम जीवन में परेशानी आती है, काम काज में परेशानी आती है, परिवार के सुख में कमी आती है, आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ता है, मान सम्मान नहीं मिल पाता है, जातक डरा डरा जीने लगता है | आइये जानते हैं वैदिक ज्योतिष के अनुसार 9 ऐसे योगो के बारे में जो जातक के जीवन में संघर्ष पैदा करते हैं : Watch video here: चांडाल योग : जब गुरु के साथ राहू या केतु कुंडली के किसी भी भाव में बैठे तो चंडाल योग बनता है| ये योग जातक के लिए बहुत ही हानिकारक होता है और इसके कारण कर्जा बढ़ जाता है, आर्थिक नुकसान बढ़ जाता है, व्यापार में न