best astrology services

Dhyan Se Sambandhit prashn aur uttar

ध्यान के लाभ, ध्यान के लिए संगीत का महत्त्व, Some important questions and answers related to meditation , ध्यान से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर ।

Dhyan Se Sambandhit prashn aur uttar
Dhyan Se Sambandhit prashn aur uttar


ध्यान एक बहुत ही रोचक विषय है और जो लोग भी ध्यान करते है वे निश्चित रूप से अपने भीतर कुछ खास महसूस करते है ।

बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो कुछ समय बाद ध्यान छोड़ देते हैं; कुछ असामान्य घटना होने के के डर के कारण शुरू ही नहीं करते हैं । ध्यान के लिए लोगों के मन में तरह-तरह के विचार मौजूद हैं जैसे कि यह संतों द्वारा ही किया जाता है, यह आम लोगों के लिए नहीं है, ध्यान आपको तपस्वी बनाता है, यह व्यक्ति को पागल बना देता है, ध्इयान करने वाला घर छोड़ देता है इत्यादि |

लेकिन यह हकीकत ये नहीं है, इसलिए इस लेख में हम ध्यान के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जानने की कोशिश करेंगे। आगे बढ़ने से पहले मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि मैं अपने अनुभव के अनुसार अपने विचार साझा करने जा रहा हूं ।

ध्यान या मैडिटेशन क्या है?

ध्यान मन को एक स्थिर स्थिति प्राप्त कराने के लिए किया जाने वाला एक अभ्यास है । यह सच है कि स्थिर मन बहुत शक्तिशाली होता है। हमारी सामान्य अवस्था में हमारा मन इधर-उधर भागता रहता है और इसलिए किसी भी काम से हम पूरी तरह से जुड़ नहीं पाते हैं लेकिन जब मन स्थिर हो जाता है, तो वह असंभव को करने में सक्षम हो जाता है और यह भारत के महान योगियों जैसे विवेकानंद, परमहंस योगानंद, बाबा नित्यानंद आदि द्वारा सिद्ध किया जा चूका है। तो ध्यान एक स्थिर स्थिति प्राप्त करने के लिए किया जाने वाला अभ्यास है |

Watch video here :

ध्यान करते समय क्या सोचना चाहिए?

यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न है कि ध्यान करते समय क्या सोचना चाहिए और मेरे अनुभव के अनुसार कुछ भी न सोचने के लिए मन को रोकना संभव नहीं है इसलिए मन को विषय देना आवश्यक है और जो विषय मन के लिए महत्वपूर्ण है वह है "सांस लेने का महत्व"। तो आप शुरू में ये सोचिए- मेरी सांस बहुत महत्वपूर्ण है और यह मुझे ऊर्जा दे रही है और इसलिए क्यों न वह जगह ढूंढी जाए जहां तक सांस अंदर जा रही है और जहाँ से निकल रही है।

ऐसा सोचने से हमारा मन 1 विषय पर केंद्रित होगा और बाद में उसे स्थिरता प्राप्त हो जाएगी।

क्या यह सच है कि ध्यान खतरनाक है?

सत्य हमेशा कड़वा होता है और ध्यान सत्य को प्रकट करता है। तो अगर आप जीवन की सच्चाई को जानना चाहते हैं तो यह आपके लिए खतरनाक नहीं है।

ध्यान रखने वाली अगली महत्वपूर्ण बात यह है कि ध्यान के दौरान कई लोग मतिभ्रम से भी ग्रस्त होने लगते हैं और संदेहों में फंस जाते हैं, यह व्यक्ति के लिए खतरनाक होता है, इसलिए गुरु या जानकार व्यक्ति जो वर्षों से ध्यान करते हैं, उनसे मिलके संदेह दूर करना हमेशा अच्छा होता है। 

क्या मैं बिस्तर में ध्यान कर सकता हूँ?

बिस्तर में मेडिटेशन करने में कोई समस्या नहीं है लेकिन यह ध्यान रखना चाहिए कि जरूरत से ज्यादा आराम आपको सुस्त और निष्क्रिय बना देता है। तो अगर आप बिस्तर पर न सोने के लिए अपने मन को नियंत्रित करने में सक्षम हैं तो आप बिस्तर में भी मेडिटेशन कर सकते हैं।

क्या ध्यान करते समय संगीत सुनना अच्छा है?

जैसे की पहले ही मै बता चूका हूँ की ध्यान मन को स्थिर करने की प्रक्रिया है और यह उतना आसान नहीं है जितना लगता है कि इस प्रक्रिया को शुरू करने के लिए कुछ लोग संगीत का उपयोग करते हैं क्योंकि संगीत में मन को शांत करने और मूड को बदलने की शक्ति होती है। तो ध्यान के लिए अच्छा संगीत का उपयोग करने में कोई समस्या नहीं है जो मन को शांत करने के लिए महान शोध के बाद तैयार किए जाते हैं।

ध्यान कब तक करना है?

इस प्रश्न का उत्तर हर व्यक्ति और उसके उद्देश्य के अनुसार अलग अलग होता है ।

विद्यार्थी और अन्य लोग १५ मिनट के ध्यान से शुरू कर सकते हैं और प्रतिदिन ४५ मिनट तक ध्यान को बढ़ा सकते हैं।

यदि कोई चक्र को सक्रिय करना चाहते है, पारलौकिक दुनिया को महसूस करना चाहते है जो भौतिकवादी दुनिया से परे है तो अनुशासित जीवन के साथ 3 से 6 घंटे का ध्यान आवश्यक होता है।

क्या मैं खुली आँख से ध्यान कर सकता हूँ?

हाँ खुली आँख का ध्यान कुछ लोगों के लिए एक बहुत अच्छी तकनीक है उन लोगो के लिए जो मन को एकाग्र करने में बहुत अधिक कठिनाइयों का सामना करते हैं।

ऐसा करने के लिए अच्छा है कि एक सादे कागज पर बिंदी बनाकर अपने सामने दीवार पर लगा लें और कुछ देर लगातार देखते रहें और फिर आंखें बंद कर लें। यह एक बहुत ही उपयोगी तकनीक है। आप मोमबत्ती का भी उपयोग कर सकते हैं।

लेकिन ऐसा ज्यादा देर तक न करें क्योंकि इससे आपकी आंखों की रोशनी प्रभावित होती है, लंबे समय तक अभ्यास करने के लिए विशेष मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है और यह विशेषज्ञ की देखरेख में किया जाता है।

मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं ध्यान कर रहा हूँ?

मन की शांति और समय से अनजान रहना ही सच्चे ध्यान की निशानी है। ध्यान का अभ्यास करते समय हम निश्चित रूप से इस अवस्था से गुजरते हैं जब हमें कुछ भी पता नहीं होता है और यही वास्तविक ध्यान है और जब आप उठेंगे तो आप अपने भीतर ऊर्जा से भरे हुए महसूस करेंगे।

इसलिए वास्तविक ध्यान आपको तरोताजा और शक्तिशाली बनाता है लेकिन इसके लिए निरंतर अभ्यास की आवश्यकता होती है।

मुझे नहीं पता कि कैसे ध्यान करना है, मुझे क्या करना चाहिए ?

यदि आप नए है तो चिंता न करें, इन चरणों का पालन करें और आप निश्चित रूप से जल्द ही कुछ खास महसूस करेंगे:

  1. अपने घर में ध्वनि मुक्त स्थान खोजने का प्रयास करें।
  2. बैठने के लिए ऊनी कंबल का प्रयोग करें, सफेद रंग अधिक शुभ होता है।
  3. अपने ध्यान अभ्यास के लिए एक समय निश्चित करें जब कोई आपको परेशान न कर सके।
  4. कंबल पर बैठें और ध्यान करने में आपकी मदद करने के लिए सूक्ष्म ऊर्जाओं से प्रार्थना करें।
  5. कम से कम 7 बार लंबी सांस लें और छोड़ें।
  6. ॐ का उच्चारण 7 बार करें।
  7. आप नीचे दिए गए मेडिटेशन म्यूजिक को हेडफोन लगाकर सुने आप और इस म्यूजिक के साथ ओम का उच्चारण भी कर सकते हैं, आप किसी अन्य मैडिटेशन म्यूजिक का स्तेमाल भी कर सकते हैं ।
  8. कुछ देर बाद जब संगीत बंद हो जाए तो बस अपनी सांसों पर ध्यान दें, अपनी सांसों को अंदर और बाहर आते - जाते हुए देखें।
  9. केवल अपनी सांस पर ध्यान दें।

इन चरणों का पालन करें और आप स्वयं कुछ ख़ास महसूस करने लगेंगे ।

संगीत मस्तिष्क को कैसे प्रभावित करता है?

संगीत में मस्तिष्क में डोपामाइन के स्तर को बढ़ाने की बड़ी शक्ति होती है जो कि खुश रहने के लिए आवश्यक है। तो यह आराम करने और गहन ध्यान में प्रवेश करने में बहुत मदद करता है। 

संगीत के बिना ध्यान कैसे शुरू करें?

यह एक अच्छा सवाल है और बहुत से लोग किसी भी संगीत का उपयोग नहीं करना चाहते हैं। तो यहाँ एक अच्छा अभ्यास आप कर सकते हैं और वो है नाद योग ध्यान । अपने सत्र की शुरुआत नाद योग से करें और यह निश्चित रूप से आपको जल्द ही गहन ध्यान में प्रवेश करने में मदद करेगा।

नाद योग के बारे में और पढने के लिए यहाँ क्लिक करे ...........

क्या कुंडली में ग्रहों की स्थिति भी ध्यान को प्रभावित करती है ?

जो ज्योतिष प्रेमी है , वे इस प्रश्न को अक्सर पूछते हैं की क्या कुंडली के द्वारा हम ये जान सकते हैं की हम ध्यान में सफल होंगे या नहीं तो बताना चाहेंगे की बिलकुल ग्रह हमारे जीवन में हर घटना को प्रभावित करते हैं जैसे की लग्न मजबूत हो तो जातक में दृढ़ ईच्छा शक्ति होती है और वो अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पूरा जोर लगा देता है , इसी प्रकार कुंडली में सात्विक ग्रहों का ताकतवर होना भी जातक को ध्यान के मार्ग में बढ़ने के लिए ताकत देता है |

तो उम्मीद है कि इस लेख के द्वारा निश्चित रूप से आपको ध्यान से संबंधित बहुत से प्रश्नों का उत्तर मिला होगा । कृपया इस लेख के बारे में अपनी टिप्पणी साझा करें और ध्यान से सम्बंधित अपने अनुभव भी शेयर करे |

 अगर आपको कोई संदेह है तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

यदि आप कोई ज्योतिष परामर्श चाहते हैं तो संपर्क कर सकते हैं |


ध्यान के लाभ, ध्यान के लिए संगीत का महत्त्व, Some important questions and answers related to meditation , ध्यान से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर ।

No comments:

Post a Comment

black magic remedies

Black magic remedies , Kala Jadu Hone Par Bachne Ke Upaay in Jyotish, Kaun sa yantra bachayega kala jadu se, kaun se totkay bachayenge k...