Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2022

Mangal aur rahu ki yuti hogi 27 june 2022 ko

Mangal ka rashi parivartan kab hoga, क्या असर होगा मंगल के मेष राशि में गोचर का, किन राशि वालो को मिलेगा लाभ, जानिए राशिफल/भविष्यवाणी | मंगल ग्रह शक्ति का प्रतिक है, जूनून से सम्बन्ध रखता है, भूमि का कारक ग्रह है | जब भी मंगल ग्रह अपनी राशि बदलते हैं तो मौसम में, लोगो के जीवन में, राजनीति में बहुत बड़े बदलाव देखने को मिलते हैं |  27 जून २०२२ सोमवार को सुबह लगभग 5:39 बजे मंगल मीन राशि से निकलके मेष राशि में गोचर करेंगे जो की मंगल की स्व राशि है परन्तु यहाँ पे पहले से ही राहू विराजमान है जिसके कारण मंगल और राहू की युति होगी और अंगारक योग का निर्माण होगा | ये युति 10 अगस्त 2022 बुधवार को रात्रि 9:43 बजे तक बना रहेगा |  अंगारक योग दुर्घटनाओं, आपदाओं, बिमारी आदि को बढ़ा सकता है अतः मंगल के राशि परिवर्तन के कुछ शुभ और कुछ अशुभ परिणाम हमे देखने को मिलेंगे | Mangal aur rahu ki yuti hogi 27 june 2022 ko आइये जानते हैं की मंगल के मेष राशि में गोचर से क्या क्या असर देखने को मिलेगा ? तूफानी बारिश, भूकंप, आगजनी की घटनाओं में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है |  देश और दुनिया में उपद्रव और अशांति

chaitra Navratri kab se hai kya kare

चैत्र नवरात्रि 2022 कब से है,  जानिए ज्योतिषीय महत्त्व, सफलता के लिए उपाय, चैत्र नवरात्रि में ग्रहों का असर क्या होगा | जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इच्छाओं को पूरा करने के लिए प्रार्थना, आध्यात्मिक अभ्यास, तंत्र साधना आदि करने के लिए नवरात्रि के 9 दिन बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। वैदिक ज्योतिष के अनुसार प्रत्येक नवरात्र शक्तिशाली होते हैं और इन दिनों कोई भी जीवन को शक्तिशाली और सफल बनाने के लिए विशेष पूजा कर सकता है। वर्ष 2022 में चैत्र नवरात्रि 02 अप्रैल, शनिवार से शुरू हो रही हैं और 10 अप्रैल, रविवार तक रहेगी । chaitra Navratri kab se hai kya kare इस बार चैत्र मास की नवरात्री मे कई अच्छे योग बन रहे हैं जिसके कारण सभी को अपनी मनोकामना पूरी करने में मदद मिलेगी | chaitra navratri  के इन दिनों में अपनी सामर्थ्य अनुसार और जानकारी लेके साधना करना अच्छा रहेगा, इसमें कोई शक नहीं है । Read in english about 2 022 chaitra navratri date and significance as per astrology . हिन्दू कैलेंडर के अनुसार चैत्र माह पहला महीना होता है और इसकी शुरुआत माता के आराधना से होती है इसलिए यह हर एक के लिए बहुत मह

What is fat loss ring

What is fat loss ring, do weight loss rings work, how does a weight loss ring work, ranga ring for weight loss, Ranga ring 100 Trusted, Fat loss ring, Motapa kaise Kam Kare. There are many ways to control weight but in this article we will know about a special ring which is used to control obesity and this is ring is called fat loss ring.  What is fat loss ring हिंदी में पढ़िए  मोटापा कम करने के लिए क्या करें ? How this ring is made? Fat loss ring is made with a special metal known as Rangha and for decades, scholars are using this ring to make life successful by losing weight.  If you want to have a slim body. If you want to maintain your beauty.  If you want to enhance your metabolism. Then you can use this fat loss ring to make your life smooth.  Read about fat reducing life style How fat loss ring work? As per research when ring made with original rangha is worn in finger then it apply pressure to some points and this enhance the metabolism which further help in controlling

What is rangha ring

What is ranga ring, benefits of rangha ring, which finger is used to wear this ring, side effects of ranga ring.  In this world due to wrong food habits and weak digestion system, not only elders but children are also suffering from obesity, in-fact this is the rapidly growing problem in this digital era. People are doing lot of things to control fat like as going to gym, do yoga, maintain their food, do aerobics, take sona bath, take too many medicines etc. but there is a magical ring which also boost the intensity of controlling fat  and this ring is made by a special metal known as RANGHA.  ranga ring details What is Ranga ring? Ring made by ranga metal to control fat is called ranga ring and this is one of the best way to maintain health. This is also known as Rangha ring, fat loss ring. Some also call it kathir ring.  Children, adult, men and women can wear this ring to make life better.  Ranga Ring for Fat Loss, Ranga Ring for Weight Loss, Ranga Metal Ring, Weight Loss ring

Powerful hanuman mantra for meditation

Which mantra should be chanted to please Hanuman ji?, powerful hanuman meditation mantra, hanuman mantra lyrics. Hanumanji's name comes at the top when we talk about devotion, we are all familiar with his immense love and devotion towards Shri Ram. ॐ हं हनुमते नमः  If there is any kind of hindrance, if there is any kind of problem, If there is a problem of ghosts, phantoms etc., then worshiping Hanumanji gives benefits. Powerful hanuman mantra for meditation Table of Content: Power of hanumanji 7 Popular names of bajrangbali Meditation mantra of hanumanji Benefits of chanting and listening Hanuman-mantra How to worship? Points to keep in mind while doing hanuman-puja There are many divine powers who have the boon to present physically in this universe and Hanuman ji is one of them, that is why worshiping Hanuman ji in Kaliyuga give relief from troubles very quickly, but special care has to be taken  while doing worship of lord bajrangbali i.e  celibacy and purity must be mai

Widow marriage and astrology

Widow marriage and astrology, tips for widow for remarry soon, how to minimize doshas in birth chart to marry again.  Marriage is very important for everyone whether one is bachelor, divorcee, separated, widow or widower. Because everyone need a partner to share feelings, emotions, happiness, sorrows.  There are many females and males who are living ascetic life because there partner is no more because of some reason. Here in this article we will see some yogas which shows problems in marriage life and we will know some easy ways to overcome from malefic impacts of planets which creates problems in remarriage.  Widow marriage and astrology As per astrology, everything is destined and so marriage also depends upon planets present in our horoscope. There are many women who are living alone because there husband is no more and due to some reasons they are forced to live life alone. But now a day’s remarriage is easy because of change in thinking.  Now the question is when a widower wi

Shiv aur parwati chausar kaha khelte hain

Shivji ka rahasyamay mandir, शिव और पार्वती कहाँ खेलते हैं चौसर, भारत मे कहाँ शिव और पार्वती रोज आते हैं | कुल मिला के 12 प्रसिद्द ज्योतिर्लिंग है भारत मे जहाँ भक्त भगवन शिव का आशीर्वाद लेने जाते हैं | परन्तु इस सबमे एक ऐसा ज्योतिर्लिंग है जो की अद्भुत है क्यूंकि यहाँ पर मान्यता के अनुसार आज भी रोज रात्री को भगवन शिव और पार्वती चौसर खेलने आते हैं | इस मंदिर में रोज रात्रि को पुजारीजी चौसर बिछा के जाते हैं परन्तु जब सुबह आते हैं तो वो चौसर बिखरा हुआ मिलता है, यही इस बात को साबिन करता है की भागन शिव और माता पर्वाती रोज इस मंदिर में आते हैं |  पढ़िए भगवान् शिव की शक्तियों के बारे में ? Shiv aur parwati chausar kaha khelte hain आइये जानते हैं की कहाँ पर ये मंदिर स्थित है ? मध्य प्रदेश के  निमाड़ में खंडवा के पास स्थित है ओंकारेश्वर मंदिर जो की नर्मदा तट पे बसा हुआ है | ये मंदिर नर्मदा नदी के बीच एक दिव्य पर्वत पर बसा हुआ है , इस पर्वत की खास बात ये है की ये पर्वत ओमकार के रूप में बना हुआ है और इस पर्वत की परिक्रमा जब कोई करता है तो वो ॐ के अकार में होती है |  इस मंदिर के बारे में कहा जाता